What is Do Follow and No Follow Link for SEO

Hello Friends, आज की इस Post में मैं आपके साथ Dofollow और Nofollow की नॉलेज शेयर करने जा रहा हूँ इसको आज डिटेल्स में जानेंगे। जो नए नए ब्लॉग्गिंग कर रहे है. और SEO के बारे में जानना चाहते है. तो उनको Dofollow और Nofollow के बारे में भी जानना बहुत जरूरी है. तो उनके लिए तो ये Post बहुत ही वढ़िया होने वाली है। 

What is Do Follow and No Follow Link (in Hindi)

SEO में हम जब भी बात करते है. तो उसमे कुछ Common Word है. – Crawling, Bots, Noindex, Doindex, Nofollow, Dofollow. ये सब Words SEO में अपनी अपनी Importance रखते है. आज इस से Dofollow And Nofollow के बारे में पता लगेगा।

शुरू में जब Blogging करते है नया ब्लॉग क्रिएट करते है. तो Google And Bing को कैसे पता पता चलेगा कि आपने ब्लॉग को बनाया है।

उसके लिए हमें Website Or Blog के Sitemap को Google, Bing में सबमिट करना पड़ता है. जैसे ही हम साइट को सबमिट कर देते है तो Google Bots हमारे Website Or Blog को Crawl करते है. और साइट की Indexing करते है तांकि Viewer सर्च इंजन में खोज सके। 

ये सब कुछ आप पर depend है कि search engine में कौन कौन से पेज index करवाने है और कौन से नही. इन सबको हम index और no index की help से किया जाता है.

What is do follow and no follow link (in Hindi)

जब कोई व्यक्ति ब्लॉग्गिंग की starting करता है तो वो सिर्फ SEO के बारे में सोचता है जब वो article पोस्ट कर देता है.

  • SEO भी कई type के होते है उनमे लोग ज्यादा backlinks पर focus करते है. backlinks के लिए bloggers google में सर्च करके उनकी वेबसाइट पर comment backlinks बनाते है.
  • जिससे या तो उन्हें dofollow लिंक मिलता है या फिर nofollow link मिलता है. इसीलिए दोनों का knowledge होना बहुत ही जरूरी है.

SEO करने से पहले आपको कुछ चीजों का ध्यान रखना बहुत ही जरूरी है. जैसे कि

जब आप नया ब्लॉग पोस्ट करते है और उस ब्लॉग की जानकारी आप facebook और whatsapp पर अपने friends के साथ शेयर करते है but इससे google को पता कैसे चलेगा कि इन्टरनेट पर आपकी कोई वेबसाइट है.

So, आपका पहला काम वेबसाइट का sitemap generate करके उसको google में सबमिट करना है. Sitemap क्या काम करता है कैसे create किया जाता है इसकी जानकारी आप Sitemap क्या है के आर्टिकल को पढ़कर जान सकते है.

Sitemap वैसे वो फाइल है जिसमे आपकी वेबसाइट के pages और posts के links होते है जो हम google search console में सबमिट करते है. ये sitemap आप wordpress में rank math या yoast SEO plugin की help से बना सकते है.

काफी bloggers को backlinks क्या है इसके बारे में तो पता है लेकिन backlinks कितने तरीके से बनाते है ये नही पता. SEO में backlink 2 तरीके से create होते है एक है dofollow दूसरा nofollow links.

इस पोस्ट में आप यही सीखेंगे कि कौनसा backlinks ज्यादा helpful होगा. यदि आप अपनी साईट के लिए हाई ranking पाना चाहते है तो आपको इस ब्लॉग को proper follow करना होगा.

यदि adsense प्रयोग कर रहे है और साईट पर broken links या फिर wrong लिंक ज्यादा है तो adsense की cpc बहुत कम हो जाती है और यदि CPC कम हो तो Earning न के बराबर होगी.
इसलिए ये जानना बहुत ही जरूरी है कि dofollow और nofollow कहाँ इस्तेमाल किया जा सकता है.

बिना SEO के हम अपनी वेबसाइट या ब्लॉग को ऊंचाइयों तक नहीं पहुंचा सकते यदि आपने जानना है कि SEO क्या होता है. तो क्लिक करें-

जितना हमारे Blog Ya Website के लिए बढ़िया आर्टिकल लिखना जरूरी है. उतना ही जरुरी है SEO, सिर्फ SEO ही ऐसा वे है, रास्ता है. जिसे हम अपने ब्लॉग को Success बना सकते है।

Dofollow Links क्या है?

Dofollow links को हम follow link भी कह सकते है. सभी लिंक dofollow ही होते है लेकिन यदि हमने Attribute(Rel=”nofollow”) add कर दिया तो ये nofollow link बन जाता है। dofollow link से search engine के साथ स्पैमिंग नहीं होती। 

Dofollow link search engine को link follow करने के लिए link juice और backlink देकर allow करते है. 

Link Juice :- जब हम वेबसाइट के पेज को हाइपरलिंक करते है. तो गूगल बोट्स links को follow करते हुए link juice पास करता है. यह link juice post की रैंकिंग बढ़ाने में भी मदद करता है और domain authority भी। 

जब आप किसी वेबसाइट या पेज को लिंक करते हो तो targetted keyword as a anchor text प्रयोग करें। 

Dofollow link का कहाँ पर use करना चाहिए -

Website के लिए dofollow लिंक होना बहुत जरूरी इससे सर्च इंजन में वेबसाइट का ranking बढ़िया होता है.

Popular Website या High Ranking Websites

Internet पर ऐसी बहुत सी websites है जो बहुत popular है उनका आप dofollow link प्रयोग कर सकते है. जैसे कि Facebook, Google, Yahoo इत्यादि.

Link Related Post

जब आप कोई न्यू पोस्ट लिखते है और उसमे पुरानी पोस्ट का link add कर रहे हो तो उसपर dofollow links add करे.

Original Content Sharing Websites

यदि आपने किसी भी वेबसाइट का ओरिजिनल डाटा कॉपी कर रखा है तो reference के तौर पर यूज़ करते है। 

Do Follow and No Follow

Nofollow Links क्या है?

Nofollow link वे लिंक होते है Search Engine Robot पोस्ट को index करते समय ignor करता है. मतलब Search Engine nofollow लिंक को index नही करता.

nofollow link

Nofollow search engine bots को लिंक follow करने के लिए allow नहीं करते उस लिंक को सिर्फ यूजर ही follow कर सकते है. इससे हम अपनी साईट को spam होने से बचा सकते है.nofollow लिंक प्रयोग करने के लिए rel=”nofollow” code प्रयोग करना होगा.

Nofollow link का कहाँ पर प्रयोग करना चाहिए 

Nofollow का लिंक वहा पर प्रयोग कीजिये जहाँ आप पूरी तरह respective न हो.

Comment

हमेशा comment में nofollow प्रयोग करे क्योंकि ब्लॉग पर ऐसे बहुँत से comment आते है जो Porn साईट, bad site,hacking site से हो. comment सेक्शन में spamming के maximum chances है.

Affiliate Program

यदि आप अपनी साईट पर Affiliate Program प्रयोग कर रहे हो तो उसको हमेशा nofollow रखे.

नोट :- एक बात ध्यान देने वाली कि यदि आप google adsense apply करोगे अपनी साईट के लिए तो जितने भी आपकी साईट पर एफिलिएट लिंक हो उसको nofollow करे.

Unrelated Link

जिस साईट का topic आपकी साईट से related न हो तो nofollow करे. For example :- आपकी website technology के ऊपर है और fashion वेबसाइट का लिंक देना चाहते है.

Bad Sites

Bad sites मतलब जो hacking, पोर्न, casino, gambling या फिर unknown info वाली sites हो उनको हमेशा nofollow ही करना है.

Dofollow और Nofollow को check कैसे करें -

यदि आपने browser पर कोई वेबसाइट open कर राखी है तो उस वेबसाइट का लिंक check करना चाहते है

फिर आप अपने Browser पर right click करके “Inspect Element” click करें ये करने के बाद एक विंडो ओपन होगा उसमे html का कोड होगा और आप देख सकोगे कि link dofollow है या nofollow. Page के header में Meta Robots का प्रयोग करे. इससे सर्च इंजन के bots links को follow नही करेंगे.

Types of Nofollow link

1. Robots Meta Tag

  • Robots Meta Tag:

ये गूगल bot बताता है कि वह फुल पेज के लिंक को follow ही न करें।

2. Link Attributes

  • Link attribute:

ये सर्च इंजन को यह बताता है की पोस्ट या पेज की रैंकिंग में लिंक काउंट न करें।

यदि आप dofollow एंड nofollow लिंक अपनी वेबसाइट का check करना चाहते है तो क्लिक करें

Check Do follow and No follow link

Conclusion

आखिर में यही कहा जा सकता है कि यदि आपकी साईट पर अकेले dofollow लिंक है. तब भी सर्च इंजन आपकी साईट को spam मान सकता है इसलिए do follow के साथ साथ no follow लिंक का होना भी उतना ही जरूरी है.

आशा करता हूँ कि इस आर्टिकल में आपको What is dofollow and nofollow link के बारे में पता चल गया होगा कि dofollow or nofollow link कैसे बनाते है यदि फिर भी कोई doubt है तो आप हमे कमेंट कर सकते है. but यदि आपको ये पोस्ट अच्छा लगे तो please शेयर करना न भूले.

Leave a Comment

error: Content is protected !!