What is Web Browser? How many types of Browsers?

आज की इस पोस्ट में हम जानेंगे कि Web Browser क्या है (What is Web Browser) और यह कितने प्रकार का होता है? यदि आपको नही पता कि वेब browser क्या है तो ये पोस्ट आपके लिए बेहद अच्छी रहेगी क्योंकि हम इसमें बात करेंगे कि ये कितने प्रकार का होता है और कैसे काम करता है.

जैसे Web Browser में Web का मतलब है Internet और Browser का मतलब होता है find करना. यदि इसे पूरा समझा जाये तो इन्टरनेट पर दुनिया की किसी भी जगह या विषय के बारे में find करना. इसकी help से आप दुनिया के किसी भी चीज़ की जानकारी हासिल कर सकते है.

इन्टरनेट पर currently बहुत user surfing करते है और उसके लिए उनको एक सॉफ्टवेर की जरूरत पड़ती है जिसे हम वेब browser के नाम से जनता है.
चाहे आप मोबाइल प्रयोग करे या फिर कंप्यूटर सभी के लिए इन्टरनेट चलाने के लिए वेब browser की जरूरत पड़ती ही है.

What is Web Browser?

Web Browser एक सॉफ्टवेर application है जिसका प्रयोग हम इन्टरनेट पर किसी भी इनफार्मेशन को access करने के लिए करते है.

इन्टरनेट और वेब browser एक दुसरे के साथ attach है क्योंकि बिना इन्टरनेट के हम वेब ब्राउज़र का प्रयोग नही कर सकते है. Web browser की help से हम इन्टरनेट पर वेब pages को open कर सकते है. files को भी transfer और access किया जा सकता है.

किसी भी वेब पेज को खोलने के लिए बस हमे browser में इस साईट का address डालना होता है जिससे हम इस साईट से related जानकारी प्राप्त कर सकते है. चाहे आप दुनिया की किसी भी कोने में बैठे है तब भी आप इसका प्रयोग कर सकते है बस आपके पास इन्टरनेट कनेक्शन होना जरूरी है.

वेब browser language को ट्रांसलेट भी करते है ताकि इन्टरनेट पर users आसानी से contents को read कर सके. कुछ वेब ब्राउज़र तो ऐसे है जो graphics, एनीमेशन भी ट्रांसलेट कर लेते है.

जिस तरह एक्सेल एक spreadsheet program है और word का प्रयोग डॉक्यूमेंट बनाने के लिए करते हैं. ठीक वैसे ही वेब ब्राउज़र का प्रयोग इंटरनेट का इस्तेमाल करने के लिए किया जाता है. वैसे WWW को भी हम वेब ब्राउज़र कह देते है.

History of Web Browser

Tim Berner Lee ने इस सॉफ्टवेर को Browser का नाम दिया जिसे हम आज सभी वेब ब्राउज़र के नाम से बोलते है. जब से इन्टरनेट का अविष्कार हुआ तब से browsers का कंप्यूटर के अंदर प्रयोग होने लगा. सबसे पहला browser का नाम WWW (World Wide Web) रखा गया. जिसे Tim Berner Lee ने 1990 में बनाया था.

History of Web Browser

उन्होंने सुचना को दुसरे कंप्यूटर पर लेने के लिए html language को develop किया और इसमें html को special command में लिखा गया जिसे “html Tags” के नाम से जाना जाता है.

1990 के दशक में सिर्फ इन्टरनेट एक्स्प्लोरर सबसे कामयाब वेब browser था जिसने नेटस्केप को पिछाड दिया था. but वर्तमान में इतने browser हो गये है कि internet explorer जैसे browser का प्रयोग कम होने लगा है. क्योंकि जो नए browser जैसे Chrome, Mozilla, Opera, Safari इत्यादि है. उन्होंने अपने बेस्ट features को add करके अपनी जगह बना ली है.

आज के टाइम में सभी के devices में इस browsers का प्रयोग होने लगा है. यदि आप एक से अधिक browser का इस्तेमाल करते है तो आप कर सकते है.

Types of Web Browser

आपको इन्टरनेट पर वैसे बहुत से browser मिल जायेंगे. लेकिन कुछ browser का प्रयोग तो computers में हो रहा है और कुछ का प्रयोग मोबाइल के अंदर और कुछ का प्रयोग tablet जैसे device में होता है. जहाँ मैं आपको कुछ browser के बारे में बता रहा हूँ और उनकी लिस्ट है.

  • Internet Explorer
  • Google Chrome
  • Mozilla Firefox
  • Opera
  • UC Browser
  • Safari
  • Microsoft Edge
  • Lynx

कुछ important browser जो आज के टाइम में ज्यादा प्रयोग हो रहे है

Google Chrome

Google Chrome को Chrome के नाम भी पुकारते है और आज के टाइम में ये users की पहली पसंद है. इस browser को google ने develop किया हुआ है. Chrome browser को 2008 में launch किया गया. ये सबसे fast, simple और reliable है. इसे किसी भी ऑपरेटिंग system पर चलाया जा सकता है. ये browser 50 से ज्यादा language को support करता है. chrome को डाउनलोड करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे.

Download Chrome 

Mozilla Firefox

इस browser को firefox के नाम से पुकारते है और इस browser को डेस्कटॉप users काफी पसंद करते है. इसे Mozilla Foundation और mozilla कारपोरेशन ने मिलकर develop किया है. इसका प्रयोग मोबाइल device में कम होता है.

Opera

ये browser काफी old है इसे 1995 में opera सॉफ्टवेर द्वारा launch किया गया. इसमें भी 40 से ज्यादा language है जो support करती है. opera को windows, Linux, Mac OS के लिए develop किया है और मोबाइल के लिए इसका मिनी version Opera Mini Browser चल रहा है.

Internet Explorer

ये windows का default browser है इसे IE के नाम से जाना जाता है. ये browser भी secure और फ़ास्ट है. इसे माइक्रोसॉफ्ट कंपनी द्वारा सन 1995 में develop किया गया था.

Web Browser कैसे काम करता है?

Internet पर इनफार्मेशन को प्राप्त करने के लिए एक address और location की जरूरत होती है इसे हम URL के नाम से पुकारते है. URL means Uniform Resource Location होता है. URL दो पार्ट्स में डिवाइड होता है एक भाग है protocols का और दूसरा भाग है domain नाम का.

इस URLs पर इनफार्मेशन html या webpage के रूप में होती है. हम ऐसे भी कह सकते है कि सबसे पहले browser web address पर जाता है और फिर वेब address पर मौजूद इनफार्मेशन को पड़कर उसको समझता है उसके बाद users तक पहुंचता है.

वर्तमान जो सभी वेब browser को पूरी तरह से program किया गया है जो html web pages, javascripts, Ajax or web server में रखे गये content को इन्टरप्रेट और डिस्प्ले करते है.

वेब browser की help से हम वेब pages को देख पते है जो वेब protocol से create हुए होते है. protocol एक तरह से rules होते है. जैसे वेब browser अपनी language को समझने के लिए rules का follow करते है जिसे HTTP भी कहते है.

HTTP की मदद से वेब क्लाइंट्स और वेब servers को एक दुसरे के साथ मिलने की अनुमति मिलती है. जब कोई भी user वेब address को वेब browser में enter करता है. तो browser उनकी request को web server में सेंड कर देता है और वहा से requested पेज को निकालकर user के पास इनफार्मेशन डिस्प्ले करा देता है.

Web Browser के कुछ components है

  • User Interface
  • Browser Engine
  • Rendering Engine
  • Networking
  • Javascript InterpreterData Storage
  • User interface Backend

Related Links :

Conclusion

आज आपने सिखा वेब ब्राउज़र क्या है और ये कैसे काम करता है. (What is Web Browser in hindi). यदि आपके मन में इस आर्टिकल के related कोई doubt है तो आप निचे comment करके पूछ सकते है और मैं पूरी कोशिश करूंगा आपके comment का reply करने की.

यदि आपको ये पोस्ट What is Web Browser? अच्छा लगा है तो आप प्लीज इस आर्टिकल को जरुर social नेटवर्क पर शेयर करना न भूले. बाकि इस पोस्ट को पढ़ने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यबाद !

Leave a Comment

error: Content is protected !!