Cache Memory Kya hai | Cache Memory in Hindi

नमस्कार दोस्तों, आज के आर्टिकल में हम बात करेंगे कि कंप्यूटर में Cache Memory क्या होती है (Cache Memory in Hindi)और ये कैसे काम करती है| आपने कंप्यूटर मेमोरी के बारे में जरुर थोडा बहुत पढ़ा होगा कि कंप्यूटर की मेमोरी को 2 पार्ट्स में बांटा गया है एक primary मेमोरी और दूसरा सेकेंडरी मेमोरी |

जैसा कि Primary मेमोरी के अंदर RAM, ROM, Cache Memory आते है और सेकेंडरी मेमोरी में HARD disk, SSD डिस्क इत्यादि आते है तो आज हम जिस टॉपिक पर बात करने वाले है वो primary मेमोरी का कैश मेमोरी है |

यदि आपको कैश मेमोरी के बारे में विस्तार से जानना चाहते है तो आप इस आर्टिकल को लास्ट तक जरुर रीड करे तो चलिए जानते है कि आखिर कैश मेमोरी है क्या ?

Cache Memory kya hai | Cache Memory in Hindi

Cache Memory एक volatile कंप्यूटर मेमोरी है जिसमे CPU द्वारा उपयोग किये जाने वाले इंस्ट्रक्शन या डाटा को स्टोर किया जाता है ये मेमोरी की स्टोरेज बहुत कम होती है but इस मेमोरी को सबसे fastest मेमोरी माना जाता है |

Cache Memory, CPU के बिलकुल करीब होती है इसका प्रयोग main memory से डाटा को एक्सेस करने में लगने वाले एवरेज टाइम को reduce कम करने के लिए किया जाता है|

कैश मेमोरी का कंप्यूटर की स्पीड बढ़ाने में बहुत हेल्पफुल है क्योंकि ये cpu की वोर्किंग कैपेसिटी बढ़ाती है | वैसे कैश मेमोरी सिर्फ CPU में ही नही बल्कि हर एक device जैसे हार्ड डिस्क, ssd, कार्ड जिसमे डाटा read/write किया जाता है उसमे ये पाई जाती है |

कैश मेमोरी के अंदर भी उतनी

Features of Cache Memory in Hindi

  • Cache memory का एक्सेस टाइम बहुत फ़ास्ट होता है
  • ये एक अस्थायी (temporary) मेमोरी है
  • कैश मेमोरी जैसे L-1, L-2, L-3 के रूप में पाई जाती है
  • कंप्यूटर बंद होने पर कैश मेमोरी में भी डाटा नष्ट हो जाता है ये एक volatile मेमोरी है |
  • कैश मेमोरी साइज़ में सिमित और कीमत ज्यादा होती है |

    Cache Memory काम कैसे करती है | How Works Cache Memory in Hindi

    जैसा कि आप जानते होंगे कि कंप्यूटर में जितने भी एप्लीकेशन या प्रोग्राम को रन करते हैं वह सब हार्ड डिस्क में स्टोर रहते हैं सीपीयू हार्ड डिस्क से डाटा सीधा fetch नहीं कर पाता है क्योंकि हार्ड डिस्क बहुत ही स्लो होती है इसलिए डाटा प्राइमरी मेमोरी रैम में लोड होता है RAM हार्ड डिस्क से फास्ट तो होती है लेकिन सीपीयू के जितनी फास्ट नहीं होती है|

    RAM की डाटा ट्रांसफर स्पीड सीपीयू की तुलना में स्लो होती है इसलिए जब सीपीयू RAM से किसी प्रोग्राम के लिए रिक्वेस्ट करता है तो हम उस प्रोग्राम को डिलीवर करने में एक निश्चित टाइम लेता है जिससे कि सीपीयू की परफॉर्मेंस खराब हो जाती है इसलिए यहां पर इस्तेमाल किया जाता है Cache मेमोरी|

    RAM मेमोरी address से डाटा का बैकअप कैश मेमोरी में बना देता है इसीलिए जबब CPU को डाटा की जरूरत पड़ती है तो वह कैश मेमोरी में चेक करता है |

    यदि कैश मेमोरी में डाटा मिल जाता है तो cpu डाटा को प्रोसेस कर देता है but यदि डाटा नही मिलता तो cpu को RAM के पास जाना पड़ता है.

    कैश मेमोरी के प्रकार (Types of Cache Memory in Hindi)

    कैश मेमोरी के मुख्य रूप से तीन Level होते हैं –

    • Level 1 Cache Memory (स्तर 1 कैश मेमोरी)
    • Level 2 Cache Memory (स्तर 2 कैश मेमोरी)
    • Level 3 Cache Memory (स्तर 3 कैश मेमोरी)

    Level 1 Cache Memory

    Level 1 की कैश मेमोरी बहुत fast होती है. यह मेमोरी CPU में ही लगी होती है और यह बहुत कम मात्रा में डेटा को स्टोर कर सकती है. Level 1 कैश मेमोरी का आकार 2KB से लेकर 64KB तक होता है.

    CPU को जब किसी डेटा की जरुरत होती है तो वह पहले इसे Level-1 Cache मेमोरी में ही Check करता है, यदि डेटा CPU को Level-1 Cache Memory में मिल जाता है तो CPU बांकी के Level को Check नहीं करता है|

    Level 2 Cache Memory

    Level 2 की Cache मेमोरी Level 1 की तुलना में बड़ी होती है, और यह L1 की तुलना में अधिक डेटा को स्टोर कर सकती है. L2 कैश मेमोरी की स्टोरेज क्षमता 256 KB से लेकर  512 KB तक हो सकती है. लेकिन इसकी स्पीड L1 की तुलना में कम होती है. CPU को जब कोई डेटा L1 में नहीं मिलता है तो वह उसे Level2 Cache में Check करता है |

    Level 3 Cache Memory

    तीसरे लेवल की कैश मेमोरी Level1 और Level2 की तुलना में बहुत बड़ी होती है, लेकिन इसकी स्पीड पहले दोनों L-1 or L-2 Level से कम होती है. L3 Cache Memory की स्टोरेज क्षमता 8 MB तक हो सकती है.

    कैश मेमोरी कहाँ पर स्थित होती है

    कैश मेमोरी कंप्यूटर में CPU चिप में ही स्थित होती है. कैश मेमोरी के अलग – अलग Level होते हैं, इसलिए उनकी स्थिति भी अलग – अलग कंप्यूटर में अलग अलग हो सकती है.

    FAQ: कैश मेमोरी से सम्बंधित सामान्य प्रश्न

    Q:- कंप्यूटर की सबसे फ़ास्ट मेमोरी कौन सी होती है?
    कंप्यूटर की सबसे Fast मेमोरी कैश मेमोरी होती है.

    Q:-कैश मेमोरी की अधिकतम स्टोरेज क्षमता कितनी होती है?
    कैश मेमोरी की स्टोरेज क्षमता इसके Level पर निर्भर करती है. Level 1 की कैश मेमोरी की स्टोरेज क्षमता 2KB से लेकर 64 KB तक होती है, Level 2 की स्टोरेज क्षमता 256 KB से लेकर 512 KB तक होती है और Level 3 की स्टोरेज क्षमता 8 MB तक हो सकती है.

    Q:- कैश मेमोरी क्यों इस्तेमाल की जाती है?
    Main Memory के Slow हो जाने पर CPU के द्वारा प्रोग्राम की Process भी धीमी हो जाती है, कैश मेमोरी प्रोग्राम के प्रोसेस को Speed – Up करती है. अर्थात CPU के परफॉरमेंस को बेहतर बनाने के लिए कैश मेमोरी का इस्तेमाल किया जाता है.

    Leave a Comment

    error: Content is protected !!