VPN क्या है ? और इसके क्या फायदे है (What is VPN in Hindi)

नमस्कार दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम बात करेंगे कि VPN क्या है अगर आपने VPN के बारे में पहले कभी नहीं सुना जा फिर आप नहीं जानते तो आप इस पोस्ट को अंत तक जरूर पढ़े ताकि आपको VPN के बारे में पता लग सके आज मैं आपको इस पोस्ट के माध्यम से VPN का पूरा कंपलीट डिटेल देने वाला हूं जिससे आप VPN को अच्छी तरह से समझ सकोगे.

यदि आप इंटरनेट का यूज कर रहे हैं तो आपने भी VPN का नाम जरूर सुना होगा क्योंकि जब भी बात इंटरनेट की सुरक्षा को लेकर आती है तो VPN का नाम जरूर लिया जाता है.

जब इंटरनेट की स्पीड कम होने पर हम इंटरनेट की स्पीड को देखने के लिए कोई भी ट्रिक का यूज़ करते हैं तो हम VPN का  नाम लेते हैं और तब हम यह सोचते हैं कि VPN क्या है और यह काम कैसे करता है.

 इंटरनेट पर ऐसी बहुत सी वेबसाइट है जो इंडिया और दूसरी कंट्रीज में बंद है तो इस तरह की वेबसाइट को अगर आप access करना चाहते हैं तो यह उस वेबसाइट को ओपन करने के लिए बीपीएन का यूज किया जाता है.

बीपीएन एक प्रोक्सी सर्विस है जो हर किसी के लिए इंटरनेट गोपनीयता और सुरक्षा सुनिश्चित करता है.

जैसा कि आपको पता है कि आज के टाइम में इंटरनेट पर अपनी पर्सनल डिटेल्स को शेयर करना बहुत ही खतरनाक हो गया है क्योंकि आज ऑनलाइन की दुनिया में लोग पूरी तरह से फंसे हुए हैं और ऑनलाइन कुछ ऐसे बुरे लोग भी हैं जो आपकी पर्सनल डिटेल्स को चुराकर ब्लैकमेल भी कर सकते हैं ऐसे में बीपीएन हमारी काफी ज्यादा मदद करता है कि हम खुद को ऑनलाइन सुरक्षित कर सकें तो चलिए अब हम बीपीएन के बारे में अच्छे तरीके से डिटेल में जान लेते हैं.

बीपीएन क्या है ? (What is VPN in Hind)

VPN यानि Virtual Private Network.  यह एक ऐसा नेटवर्क है जिसका इस्तेमाल हम प्राइवेट नेटवर्क और वाईफाई को सिक्योर करने के लिए करते हैं.

यह नेटवर्क इन सिक्योर को सिक्योर नेटवर्क में बदलने का काम करता है साथ ही साथ यह यूजर की वास्तविक लोकेशन और identity  छुपाने का भी काम करता है यानी VPN आपकी पर्सनल डिटेल्स को पूरी तरह से गोपनीय करके रखता है और आपके डाटा को हैक होने से भी बचाता है.

VPN का प्रयोग कौन करता है ?

बीपीएन का प्रयोग ज्यादातर जो ऑनलाइन व्यापारी काम करते हैं या फिर सरकारी एजेंसीज, एजुकेशनल इंस्टिट्यूट या कॉरपोरेशन जैसे लोग करते हैं ताकि वह अपने important  डाटा को किसी unauthorized  यूजर से बचा के रख सके. बीपीएन हमारे सभी तरह के डाटा को सिक्योर लगता है.

बीपीएन काम कैसे करता है (How Works VPN)

बीपीएन का सबसे महत्वपूर्ण कार्य यूजर्स के डाटाबेस को सुरक्षित करना होता है VPN के माध्यम से आप कोई भी ब्लॉक वेबसाइट को आसानी से एक्सेस कर सकते हैं.

जब आप ब्राउज़र में किसी वेबसाइट का एड्रेस डालकर एंटर करते हैं तो सबसे पहले request  आपके ISP  को जाती है आईएसपी यानि इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर।

जहां पर आप की ऑनलाइन identity ,लोकेशन और डेटा रिक्वेस्ट जैसी सारी डिटेल चेक की जाती है और उसके बाद आपको उस वेबसाइट से server  के साथ जोड़ा जाता है.

 उसके बाद आपके और उस वेबसाइट के मध्य जो भी डाटा का आदान-प्रदान होता है वह सब आईएसपी के जरिए होता है ऐसे में आपका कुछ भी डाटा सिक्योर नहीं रहता और डाटा चोरी होने का भी खतरा रहता है.

कुल मिलाकर देखा जाए तो आपकी फ्रीडम, प्राइवेसी और सिक्योरिटी जैसी समस्याओं से आपको गुजरना पड़ता है लेकिन वीपीएन इन सारी समस्याओं का समाधान है क्योंकि वीपीएन इन सबसे अलग है जिससे आप अपनी वेबसाइट को या आप किसी भी वेबसाइट को इंटरनेट पर यूज करने के लिए इस्तेमाल करते हैं

बीपीएन को हम एक उदाहरण के तौर पर समझते हैं

जैसे कि इंडिया में Netflix है वह अभी आया है लेकिन पहले नेटफ्लिक्स इंडिया में नहीं था और अगर हमने नेटफ्लिक्स को देखना होता तो हम बीपीएन का यूज करके कनेक्ट कर लेते थे मान लीजिए जिसका सर्वर यूएस में है या UK में है तो कनेक्ट करने के बाद हम उस सर्वर के जरिए नेटफ्लिक्स को बड़े आराम से देख सकते हैं ऐसे में Netflix को यह पता नहीं चल पाता था कि वह यूजर इंडिया में है क्योंकि उसे तो यह लगता था कि यूजर लोकल नेटवर्क यानि कि यूएस में ही है.

मान लीजिए आप अपने स्मार्टफोन से ब्राउज़र का यूज करके मेरी वेबसाइट को ओपन करना चाहते हैं तो आप जैसे ही bloggerkey.com टाइप करके enter  की press  करेंगे तो आप की रिक्वेस्ट VPN सर्वर  के पास चली जाएगी और आपके फोन से जो रिक्वेस्ट के रूप में डाटा ट्रैफिक जाएगा वह पूरी तरह से इंक्रिप्टेड होगा।

साथ ही साथ आप की ऑनलाइन identity  बिल्कुल गुप्त रहेगी क्योंकि डाटा ट्रैफिक आपके फोन की बजाय वीपीएन सर्वर से भेजा जाएगा लेकिन जैसे ही डाटा वीपीएन सर्वर के पास जाता है वह डिक्रिप्ट हो जाता है उसके बाद वीपीएन आपकी रिक्वेस्ट को bloggerkey.com  के सर्वर पर भेज देगा और वहां से Answer  प्राप्त करके उसे वापस Encrypt  कर देगा.

VPN के फायदे क्या है?

वीपीएन के फायदे अब हम बीपीएल के फायदे के बारे में जानते हैं

  • वीपीएन आप के डाटा को सिक्योर रखता है.
  • वीपीएन आपको सिक्योर कनेक्शन प्रोवाइड करता है.
  • वीपीएन आपको इंटरनेट से पूरी तरीके से परमिशन देता है.
  • आप बीपीएन का यूज करके रिस्ट्रिक्टेड वेबसाइट को भी एक्सेस कर सकते हैं.
  • फ्री वीपीएन में आपको कोई पैसे देने की जरूरत नहीं होती इसमें जो भी फीचर्स होते हैं वह आप बड़ी आसानी से यूज कर सकते हैं.
  • वीपीएन से आप अपने डाटा को हैकर से भी सिक्योर कर सकते हैं.
  • Paid  वीपीएन सॉफ्टवेयर से आप अपने डेटा और डिटेल्स को ज्यादा सिक्योर कर सकते हैं.

Mobile फ़ोन में VPN का प्रयोग कैसे करे ?

how to use vpn in mobile

VPN का यदि आप यूज़ करना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको वीपीएन सॉफ्टवेयर डाउनलोड करना होगा तो यदि आप स्मार्ट फोन यूज कर रहे हैं तो आप गूगल प्ले स्टोर या एप स्टोर से मोबाइल ऐप डाउनलोड कर सकते हैं.

वही यदि आप कंप्यूटर में प्रयोग करना चाहते हैं तो chrome-extension भी डाउनलोड करके बीपीएन का प्रयोग कर सकते हैं इसके लिए आपको VPN का अकाउंट बनाना होगा और उसमें लॉगइन करके आप लाइसेंस अपना एक्टिवेट कर लीजिए तो आप VPN बड़ी आसानी से यूज कर सकते हैं.

Opera में कैसे इस्तेमाल करे

यदि आप वीपीएन का इस्तेमाल बड़ी आसानी से करना चाहते हैं तो आप कंप्यूटर में Opera ब्राउजर को इंस्टॉल कीजिए. Opera ब्राउजर में वीपीएन का ऑप्शन bydefault है तो आप वहां से बीपीएन एक्टिवेट कर सकते हैं. जिससे आप ब्लॉक वेबसाइट को एक्सेस कर पाएंगे आप अपनी मर्जी से VPN को ऑन या ऑफ कर सकते हैं और साथ ही साथ लोकेशन भी बदल सकते हैं.

बीपीएन का प्रयोग किसे करना चाहिए ?

बीपीएन का इस्तेमाल उन सब को करना चाहिए जो इंटरनेट का प्रयोग करता है लेकिन यदि आप इंटरनेट का कम प्रयोग  करते हैं या इस्तेमाल करते हैं तो बीपीएन आपके लिए इतना ज्यादा जरूरी भी नहीं है.

But  यदि आप ऑनलाइन बैंकिंग, क्रिप्टोकरंसी, गवर्नमेंट एजेंसी या डाटा सेंटर या उससे जुड़ी कोई भी सूचना को प्राप्त करना चाहते हैं या फिर कोई काम करना चाहते हैं तो बीपीएन आपके लिए बेहद ही अनिवार्य है तो ऐसे कामों के लिए आपको  बीपीएन का यूज करना चाहिए।

Best VPNs in 2022

यदि आप एक बेस्ट VPN सर्च कर रहे है अपने कंप्यूटर या लैपटॉप में इनस्टॉल करने के लिए तो अब मैं आपको निचे एक लिस्ट provide कर रहा हूँ जिससे आप इन सबसे में से कोई भी VPN प्रयोग में ला सकते है-

  1. Nord VPN
  2. Express VPN
  3. SurfShark
  4. CyberGhost
  5. Proton VPN
  6. Hotspot Shield
  7. Private VPN
  8. IPVanish

मेरी आपसे एक और request है कि कभी भी free VPN के चक्कर में न पड़े क्योंकि ये आपके डाटा के लिए खतरनाक भी हो सकता है. इसके लिए बेहतर है कि हमेशा Paid VPN का ही प्रयोग करे. क्योंकि Free में कभी भी फुल features नही मिलते जिसे डाटा को सुरक्षित रखा जा सके.

Related Articles

  • Blogging में ये गलतियाँ कभी भी न करे
  • Micro Niche Blogging क्या है? कैसे करे ?
  • Blogging क्या है ? कैसे करे और Blogging के क्या क्या फायदे है?
  • Conclusion

    आज के इस आर्टिकल में हमने सीखा कि VPN क्या है और इसका कैसे यूज करना है और इसके क्या क्या फायदे हैं यदि आपको यह आर्टिकल अच्छा लगा है तो प्लीज अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें. यदि आपको इस आर्टिकल के रिलेटेड कोई भी डाउट है तो आप हमें नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूछ सकते हैं मैं कोशिश करूंगा आपके कमेंट का रिप्लाई करने की.

    इस आर्टिकल को पढ़ने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद

    Leave a Comment

    error: Content is protected !!