Meta Description क्या होता है ? हर ब्लॉगर के लिए क्यों जरूरी है?

आज के आर्टिकल में हम discuss करेंगे कि meta description क्या है और ये हर एक ब्लॉगर के लिए क्यों जरूरी है. meta टैग का इस्तेमाल सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन के लिए बहुत important है क्योंकि इसमें बिना आप वेबसाइट के pages को serp रिजल्ट में पाना बहुत मुश्किल हो जाता है.

meta description का एक नए ब्लॉगर के लिए समझना बहुत important है क्योंकि आजकल इतना कम्पटीशन बढ़ गया है कि इसके बिना आप सर्च रिजल्ट में जगह नही ले सकते.

यदि आप एक ब्लॉगर है और आप ये जानते होंगे कि ब्लॉग पर ट्रैफिक पाना बहुत ही मुश्किल होता है इसके लिए SEO को पूरी तरह से optimize karna होता है और अपने content को हाई quality content बनाना होता है.

meta description भी एक seo का छोटा सा पार्ट है जिसे समझना अति जरूरी है तो आज हम इस पोस्ट के माध्यम से meta description के बारे डिटेल्स के अंदर चर्चा करेंगे. साथ ही कुछ tips मैं आपके साथ शेयर करूंगा जिससे आप अपने ब्लॉग को सर्च रिजल्ट में जल्दी ला सकते है.

meta description शुरू करने से पहले meta टैग के बारे पता होना जरुरी है इसलिए सबसे पहले meta tag के बारे में discuss करते है.

What is META TAG in Hindi

Meta वो इनफार्मेशन होती है जो kisi page के content के बारे में बताती है. meta टैग सर्च इंजन को पूरी इनफार्मेशन देते है.

meta इनफार्मेशन सिर्फ सर्च इंजन के लिए visible होता है यदि आप kisi भी page को read करेंगे तो ये meta इनफार्मेशन दिखाई नही देगा.

Meta TAG एक html code है जो head सेक्शन में insert होते है. सर्च इंजन को यदि page की जानकारी मिलती है तो इन meta tag से ही मिलती है.

example :- यदि आप सर्च इंजन में कोई भी इनफार्मेशन सर्च करते है तो आपके सामने हर वेबसाइट की 3 ही चीज़े display होती है

  • Meta Title
  • URL
  • Meta Description

SEO में 4 प्रकार के meta टैग का प्रयोग होता है

  1. Meta Title – सर्च रिजल्ट में जो भी इनफार्मेशन सर्च करते है और जो blue अक्षरों में words लिखे होते है वही meta title होता है. ये seo और serp रिजल्ट के लिए सबसे ज्यादा important टैग है. इसके बिना आप सर्च रिजल्ट कभी भी अपने page को नही ला सकते.
  2. Meta description :- meta description भी meta टैग का ही एक पार्ट है इसकी मदद से आप सर्च इंजन को ये बताते है कि आपका आर्टिकल किसके बारे में है. ये बिलकुल short में लिखा जाता है. seo के दृष्टिकोण से ये बहुत important है और सर्च इंजन में पोस्ट की value बढती है.
  3. Robots :- Robots टैग की मदद से आप सर्च इंजन को ये बता सकते है कि किस page को index karna है और किस page को नही. कौन से लिंक को follow karna है और कौन से लिंक जूस पास नही karna. ये सब robots टैग की हेल्प से किया जा सकता है.
  4. Meta Keyword – आज के टाइम में meta keyword इतना important नही रह गया. अब सर्च इंजन भी इनको इतनी weightage नही देता. यदि आप wordPress cms का प्रयोग कर रहे है तो yoast या rank math plugin की हेल्प से सभी tags आसानी से web page में insert कर सकते है.

What is Meta Description in Hindi

Meta Description एक ऐसा text है जो page या पोस्ट के बारे बताता है और इसे normally सर्च रिजल्ट में snippet के रूप में देखा जा सकता है.

meta description on page seo का एक पार्ट है google के first page पर लाने के लिए सिर्फ meta title का होना ही जरूरी नही है. यदि आपकी first page पर रैंक होने के बादजूद भी ट्रैफिक नही आ रही है तो इसका कारण है कि serp में आप visitor को attract नही कर पा रहे. इसीलिए title के साथ meta description होना बेहद जरूरी है.

Meta Description Length

Search engine में अपने page या पोस्ट को display करवाना चाहते है तो आपके पोस्ट के लिए डिस्क्रिप्शन length maximum 160 character की  हो इससे ज्यादा न हो.

यदि आप kisi भी web page के meta टैग को read karna चाहते है तो page पर माउस का राईट क्लिक करे और view source पर जाये. ऐसा करने से आपके सामने उस webpage की कोडिंग खुलकर आ जाएगी. उसमे आप head सेक्शन में जाकर meta डिस्क्रिप्शन चेक कर सकते है.

meta टैग को यदि डिटेल में पढना चाहते है तो आप google का ये आर्टिकल read कर सकते है – क्लिक करे.

HTML में यदि Meta description को लिखना चाहते है तो इस प्रकार लिखे –

<meta name=”description” content=”write your description here”/>

Meta Description Tips

Tips No -1 – Length

आप वेबसाइट में जितने भी pages create कर रहे है उन सबके के लिए meta डिस्क्रिप्शन का होना अति जरूरी है. आपके meta डिस्क्रिप्शन की length 150 से 160 के अंदर होनी चाहिए. यदि आप 160 character से ऊपर लिखते है तो google उसको display नही करता. और सबसे बड़ी बात ये seo के दृष्टिकोण से भी सही नही है यदि आप 160 character से ऊपर length रखते है.

Tips No – 2 – Keyword का इस्तेमाल

जब भी हम अपने वेबसाइट में आर्टिकल लिखते है उससे पहले keyword रिसर्च करते है. सर्च इंजन में rank पाने के लिए अपने content में targeted keyword  को प्रयोग करके पोस्ट को optimize भी करते है. जो भी पोस्ट के लिए keyword रिसर्च करते है उसे हमेशा अपने title, url और meta description में जरुर add करे. इससे पोस्ट सर्च इंजन के लिए और भी effective बन जाती है.

यदि आपने content और title में तो keyword का प्रयोग कर लिया but meta description में नही किया तो फिर google आपके पोस्ट को ज्यादा importance नही देगा.

Tips No – 3 description सही तरीके से मिले

जब आप एक अच्छा high quality content तैयार करके पोस्ट को ready करते है तो meta description में उस पोस्ट से रिलेटेड ही content add करे. कभी भी अपने पोस्ट के विपरीत content meta में add न करे. यदि आप content कुछ और meta डिस्क्रिप्शन कुछ और लिखते है तो उससे visitor आने की सम्भावना बहुत कम हो जाती है.

Tips no. 4 – Social Media

यदि आप अपनी वेबसाइट पर पोस्ट पब्लिश करते है तो उसे जरुर सोशल मीडिया पर शेयर करे और जब भी शेयर करे तो अलग से description जरुर add करे. यदि आप सोशल मीडिया पर अपने वेबसाइट से रिलेटेड page create करते है तो google आपके सोशल मीडिया pages को जरुर index करता है. सोशल मीडिया पर शेयर करने से फायदा ये है कि इससे जल्दी आपका page index होता है.

कुछ चीज़े जो आपने meta description में avoid करनी है

Duplicate Meta डिस्क्रिप्शन

कभी भी kisi और के ब्लॉग से copy करके अपने ब्लॉग में meta डिस्क्रिप्शन  न लगाये. इससे कभी भी google apki पोस्ट को index नही करेगा.

अपनी वेबसाइट में जितनी भी पोस्ट लिखते है उन सबका meta डिस्क्रिप्शन अलग अलग होना चाहिए.

Symbol का प्रयोग न करे

meta डिस्क्रिप्शन मे कभी भी सिंबल का प्रयोग न करे. यदि आप meta डिस्क्रिप्शन में सिंबल का प्रयोग करते है तो google ये चिन्न डिस्क्रिप्शन से cut कर देता है.

Conclusion

आज के इस आर्टिकल में आपने सिख लिया है कि Meta Description क्या होता है और ये हर ब्लॉगर के लिए क्यों जरूरी है ? यदि आपको इस पोस्ट से रिलेटेड कोई doubt है तो आप हमे कमेंट करके पूछ सकते है और मैं पूरी कोशिश करूंगा आपके कमेंट का reply करने की.

यदि ये पोस्ट अच्छा लगे तो प्लीज इस पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा शेयर करना ताकि जो भी नए ब्लॉगर है उन्हें meta description के बारे में पता लग सके. इस पोस्ट को पढने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यबाद !

Leave a Comment

error: Content is protected !!