Software Kya Hota Hai | What is Software in Hindi

नमस्कार दोस्तों, आज के हमारे इस लेख में हम बात करने वाले हैं Software के बारे में, वैसे तो सभी ने इसका नाम तो जरूर सुना होगा, इसका इस्तेमाल computer मैं होता है, आप सभी कंप्यूटर का इस्तेमाल अपने कार्य को सरल बनाने के लिए करते हैं।

लेकिन क्या आप कंप्यूटर के अंदर इस्तेमाल होने वाले सॉफ्टवेयर के बारे में जानते हैं? अगर नहीं, तो आप बिल्कुल सही आर्टिकल पर आए हैं। 

आज हम आपको बताने वाले हैं, Software kya hota hai? Software ke types के बारे में बिल्कुल ही सरल शब्दों में, केवल आपको हमारा आर्टिकल अंत तक जरूर पढ़ना है, तभी आप अच्छे से Software के बारे में जान पाएंगे, तो चलिए शुरू करते हैं।

Software kya hota hai in Hindi (What is Software in Hindi)

Computer विज्ञान में, Software सार्थक आदेशों और आवश्यक सूचनाओं का एक ऐसा समूह माना जाता है, जो computer को यह बताता है, कि उसे किन-किन कामों को करना है।

Software, एक प्रकार से, Hardware से अत्यंत अलग चीज है,यह दोनों एक दूसरे पर इतने निर्भर है कि, अगर इन दोनों में से एक चीज ना हो तो दूसरी चीज कम या नहीं के बराबर उपयोगी है।

व्यवहारिक तौर पर अगर Computer के बारे में बताया जाए, तो हम Hardware को मनुष्य का शरीर तथा Software को उसकी आत्मा कह सकते हैं, सॉफ्टवेयर कोई भी पदार्थ नहीं है जिसे हम देख या छू सके।

यह तो वह सूचनाएं, आदेश तथा वह तरीके हैं, जिनके आधार पर कंप्यूटर का हार्डवेयर काम करता है, ऐसा भी कहा जा सकता है, कि Computer जो है वे Hardware और Software से परिचित होते हैं, तथा सॉफ्टवेयर कंप्यूटर के हार्डवेयर से परिचित और उन पर आधारित होते हैं।

Software ke types (Types of Software in Hindi)

Software को दो भागों में बांटा गया है।

  1. System Software.
  2. Application Software.

1. System Software:-

“System Software” यह एक ऐसा प्रोग्राम माना जाता है, जिसका काम system तथा computer को चलाना और उसे काम करने के लायक बनाए रखना होता है।

System Software ही Hardware को चलाने में मदद करता है, Operating system, Compiler आदि System Software के मुख्य भाग हैं।

Operating System के माध्यम से सिस्टम सॉफ्टवेयर कंप्यूटर के कामकाज पर नियंत्रण रखता है, और यह सिस्टम सॉफ्टवेयर कंप्यूटर के सभी बाहरी उपकरणों जैसे Monitor Printer और Storage device  पर अपना नियंत्रण रखता है।

Examples of System Software –

  • Operating System.
  • Assemble.
  • Compiler.
  • Interpreter.

2. Application Software:-

“Application Software” ऐसे प्रोग्रामों को कहा जाता है, जो कि हमारे computer पर आधारित मुख्य कार्य को करने के लिए लिखे जाते हैं, आवश्यकता के अनुसार अलग-अलग उपयोगों के लिए अलग-अलग Software होते हैं।

जैसे कि वेतन की गणना, लेन-देन का हिसाब, वस्तुओं का stock रखना और बिक्री का हिसाब लगाना अधिकारियों के लिए लिखे गए प्रोग्राम को  ही Application Software कहा जाता है।

Examples of Application Software –

  • Income Tax Software.
  • Railways Reservation Software.
  • Microsoft Office Suite Software.
  • Video Player.
  • Microsoft Excel.
  • Microsoft Word.
  • Microsoft Powerpoint.

Software kaise banaye? (How to make Software in Hindi)

  • Software बनाने के लिए सबसे पहले तो आपको यह निर्णय लेना बेहद आवश्यक है, कि आपको किस तरह के Software Development मैं interest है, इसी के साथ System Software या फिर Application Software मैं।
  •  जब आप निर्णय कर ले कि कौन सा Software बनाना है, तो उसके बाद आप इसके लिए programing classes शुरू कर ले और अपने अंदर नहीं skills को डेवलप कीजिए, और आप c+, c++, java, python इत्यादि को अपनी Software की जरूरत अनुसार सीख ले।
  • इसके बाद आप ऐसे Sources ढूंढें जो आपको software के बारे में जानकारियां दे सकें, आज के समय में internet सूचनाओं का भंडार बन चुका है, तो आप internet की मदद से पूरी जानकारी हासिल कर सकते हैं।
  • उसके बाद आपके मन में जितने भी सवाल आ रहे हैं उन्हें या तो इंटरनेट पर देखें या फिर classes के जरिए अपने अध्यापकों से पूछें और रोजाना अभ्यास करते रहे ताकि आपको कुछ ना कुछ Software development के बारे में सीखने को मिलता रहे।

Conclusion:-

हमने आपको हमारी तरफ से Software kya hota hai? और Software ke types, Software kaise banaye? के बारे में पूरी जानकारी देने की कोशिश की है। आशा करते हैं कि आपको यह जानकारी समझ आई होगी। और आने वाले समय में यदि आप Computer का उपयोग करते हैं। तो आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी से काफी हद तक लाभ होगा।

अगर आपको  हमारे द्वारा दी गई जानकारी से सब कुछ अच्छे से समझ आया तो इस आर्टिकल को उन लोगों तक जरूर शेयर करें या अपने उन दोस्तों तक जरूर पहुंचाएं जो Software के बारे में जानकारी हासिल करना चाहते हैं।

इस आर्टिकल में हमने आपको बिल्कुल डिटेल से जानकारी देने की कोशिश की है, अगर आपको इस आर्टिकल में किसी भी प्रकार की दिक्कत आ रही है, तो आप हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूछ सकते हैं, तो हम आपके सवाल का जवाब जल्दी से जल्दी देने की कोशिश करेंगे।

धन्यवाद।

Leave a Comment

error: Content is protected !!