What is Backlinks in Hindi ? Website के लिए क्यों जरूरी है?

“Backlink” SEO में सबसे ज्यादा प्रयोग होने वाला एक word है |

ज्यादातर जो नए blogger अपना ब्लॉग या website start करते है तो उनके लिए backlink को समझना बहुत ही मुश्किल होता है |

लेकिन आज मैं आपको इस पोस्ट में बताने वाला हूँ  What is Backlinks in Hindi (backlink क्या है और ये वेबसाइट के लिए क्यों जरूरी है) और कौन कौन से तरीको से हम backlink बना सकते है |

मुझे पूर्ण आशा है कि आप इस पोस्ट को पूरा पढ़ने के बाद backlink को बहुत ही अच्छे तरीके से समझ जायेंगे |

What is Backlinks in Hindi

एक नए Blogger के लिए Backlink का मतलब शायद पता नहीं होगा तो आज हम इसी के ऊपर बात करेंगे कि Backlinks क्या है.

Backlink जब वेबसाइट किसी अन्य webpage के साथ लिंक करती है उसे backlink कहा जाता है |

backlink को यदि आप अच्छे तरीके से जानना चाहते है तो मैं आपको एक example देकर समझा रहा हूँ |

Example :- जैसे कोई एक popular वेबसाइट है जिसपे daily के लाखों visitor उस वेबसाइट पर आर्टिकल पढ़ने आते है. यदि आपकी वेबसाइट का लिंक उस popular वेबसाइट में हो तो उस वेबसाइट में आने वाले लाखों विजिटर आपकी वेबसाइट पर भी दिए हुए लिंक के माद्यम से आ सकते है जिससे आपकी webpage पर भी विजिटर आने लग जायेंगे जो search engine के according बहुत ही अच्छा है| इससे वेबसाइट rank करने लगती है |

जिस page में जितनी ज्यादा backlinks होती हैं, उसका rank उतना high होता है.

अपने ब्लॉग को successfull बनाने  के लिए Blogger कुछ न कुछ नया करता है. जिससे कि उसका Blog दुनिया में हिट हो सके। एक ब्लॉग को कामयाब बनाने के बहुत तरीके है उनमे से एक है SEO.

SEO का इस्तेमाल करके हम अपने ब्लॉग को दुनिया भर के लोगो के साथ शेयर कर सकते है. यदि हम SEO करते है तो उनमे से एक है Backlinks.

SEO के बारे  जानना चाहते है तो क्लिक करें .

जो लोग पुराने Blogger है. उनको तो Backlinks के बारे में अच्छी तरह पता होगा लेकिन जो नए है उनको Backlinks के बारे में जानना बहुत जरूरी है। 

अब आपने सिर्फ इतना जान लिया है कि backlink क्या है |
अब हम Backlink से related कुछ terms के बारे में discuss करेंगे जिसका आपको समझना बेहद ही जरूरी है |

Common Terms Of Backlink

 अब कुछ Common Terms है जिनके बारे में जानना अति आवश्यक है. 

  • Link Juice
  • Internal Link
  • Low Quality Link
  • High Quality Link
  • Anchor Text
  • Root Domain Linking

1) Link Juice 

जब कोई भी webpage का लिंक आपके वेबसाइट के किसी भी आर्टिकल के लिंक या फिर आपके वेबसाइट के homepage के साथ लिंक करता है तो उस webpage का लिंक फ्लो होकर आपके वेबसाइट तक आता है उस हम link juice कहते है.

ये लिंक जूस आपके वेबसाइट के आर्टिकल को rank कराने में बहुत help करता है. और आपके domain authority को भी improve करने में मदद करता है.

यदि आप link juice पास नही करना चाहते तो आप nofollow tag का प्रयोग करके लिंक juice को पास होने से रोक सकते है |

2) Internal Link

internal Link वो link होते है. जो आपकी वेबसाइट के एक page से दुसरे page के साथ लिंक किया जाता है.
जैसे :- आपकी वेबसाइट का एक आर्टिकल यदि गूगल में अच्छा rank कर रहा है और आप अपने दुसरे आर्टिकल को भी rank कराना चाहते है तो दोनों आर्टिकल को एक दुसरे के साथ internal link कर सकते है |

3) Low Quality Link

Low Quality links वो links है जो porn sites, spam sites or harvested sites से आपके वेबसाइट पर आ रहे है। ये लिंक आपकी वेबसाइट को सिर्फ और सिर्फ नुक्सान ही पहुंचा  सकते है.

जब भी आप अपने ब्लॉग के लिए backlink का इस्तेमाल कर रहे होते है तो एक बात का ध्यान रखे कि आपकी ब्लॉग का लिंक हाई क्वालिटी लिंक से जुड़ा होना चाहिए| backlinks खरीदते समय हमेशा carefully रहे.

4) High Quality Link

High Quality Link वो लिंक होते है जो sites popular होती है जिनका value google में बहुत ज्यादा रहता है. और यदि हमारी वेबसाइट को उन वेबसाइट से कोई बैकलिंक मिलता है तो सर्च इंजन में आपकी website को high ranking प्राप्त होगी.

5) Anchor Text

जो link हम हाइपरलिंक के लिए प्रयोग करते है उन्ही को हम Anchor Text कहते है. अगर हम particular keyword के लिए  रैंक करवाना चाहते है. तो ये एंकर टेक्स्ट बहुत अच्छे से काम करता है।

6) Linking Root Domains

अगर कोई भी वेबसाइट आपकी वेबसाइट से 10 बार लिंक करता है. तो उसे one time ही root domain माना जाता है मतलब आपकी वेबसाइट पर कितने unique domain बैकलिंक आ रहे है

Types of Backlinks (Backlinks कितने प्रकार के होते है ?)

Backlink दो प्रकार के होते है 

What is Backlinks in Hindi & types of Backlinks

  1. Dofollow Backlinks

  2. Nofollow Backlinks

DoFollow Backlinks

Dofollow backlinks link juice को पास करने में हेल्प करता है. एक साइट से दूसरी साइट पर जाने का रास्ता देता है. 

Dofollow links को हम follow link भी कह सकते है सभी लिंक dofollow ही होते है. लेकिन यदि हमने Attribute(Rel=”nofollow”) add कर दिया तो ये nofollow link बन जाता है। dofollow link से search engine के साथ स्पैमिंग नहीं होती। 

Dofollow link search engine को link follow करने के लिए link juice और backlinks देकर allow करते है. 

Nofollow BackLinks

जैसा कि आपको पता लग गया है कि dofollow backlink क्या होता है? लेकिन हो nofollow backlink है वो इसके बिलकुल opposite है.

जब एक साइट किसी दूसरी साइट से लिंक करती है तो उसके पास nofollow टैग है तो लिंक जूस पास नहीं करता। Nofollow link सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन में आपकी वेबसाइट के webpage को रैंक करने के लिए बिलकुल भी काम में नहीं आता।

But आपकी वेबसाइट पर nofollow backlink होना भी जरूरी होता है ये आपकी webpage की प्रोफाइल को नार्मल लुक देते है मतलब जब आप अपने webpage की seo करते है तो आपको पता लगता है कि nofollow backlink भी जरूरी है इससे webpage में seo strong बनती है.

यदि आपकी वेबसाइट पर सिर्फ dofollow backlink ही हो तो google को आपकी प्रोफाइल genuine नही लगती इससे google आपको penalize भी कर सकता है इसीलिए दोनों का होना बहुत ही जरूरी है.  

Benefits of Backlinks (Backlinks के क्या फायदे है? )

चलिए अब यह जान लेते है कि backlinks से क्या क्या फायदे है.

यदि आपकी साइट को किसी क्वालिटी वेबसाइट से बैकलिंक  मिल जाये तो ये आपके लिए बहुत वढ़िया है. लेकिन आपकी साइट को तभी फायदा है यदि आपकी साइट जिस niche पर हो उसी से रिलेटेड बैकलिंक हो। 

  • Faster Indexing Site
  • Referral Traffic
  • Improve Organic Ranking

Faster Indexing Site :- 

Backlinks आपकी साईट के सर्च इंजन bots को link discover करने और crawl में help करता है. Specially, किसी नयी वेबसाइट के लिए backlinks लेना बहुत ही महत्वपूर्ण होता है क्योंकि ये साईट की indexing को faster करता है.

Referral Traffic :- 

Backlinks का सबसे ज्यादा benefit है कि ये आपको referral traffic लाने में बहुत help करते है. Referral traffic आपके ब्लॉग या वेबसाइट पर सर्च इंजन से नही आता है बल्कि यह किसी और ब्लॉग के link through आता है.

Usually referral traffic को target किया जाता है और इसका Bounch rate भी कम होता है.

Improving Organic Ranking :- 

Backlinks आपकी वेबसाइट को सर्च इंजन में better ranking पाने में मदद करता है. यदि आपके किसी वेबसाइट का पेज या पोस्ट organic links प्राप्त कर रहा है तो naturally आपके पोस्ट का content, सर्च इंजन में higher rank प्राप्त करेगा.

इसीलिए आपका index/homepage के साथ अलग अलग पोस्ट या pages के लिए लिंक create करने को रहना चाहिए.

How to Create Backlinks for Blog (एक Blog के लिए Backlinks कैसे बनाये)

जो नए ब्लॉगर होते है उनके लिए बैकलिंक बनाना बहुत ही मुश्किल होता है पर backlink बनाना भी बहुत जरूरी होता है. अपने ब्लॉग के लिए यदि हमने ब्लॉग पर विजिटर increase करने है तो। बैकलिंक हम जितने मर्ज़ी create कर सकते है. 

अपने ब्लॉग के लिए backlinks कैसे बनाये यदि अपना ये जानना है तो निचे दिए गये कुछ points से आपको clear हो जायेगा कि backlinks कैसे बनाये जाते है.

Quality Article लिखे 

Backlinks पाने का सबसे अच्छा और Best तरीका यही है कि आप अपने ब्लॉग में अच्छे से अच्छा content create करे जो visitor को पसंद आ जाये. Content में कुछ ऐसा लिखे जिसमे कुछ सिखने को मिले.

दोस्तों Google हमेशा किसी भी वेबसाइट का क्वालिटी content खोजता है यदि content अच्छा है तो google में वेबसाइट अच्छे से rank कर जाती है Because “Content is King”.

इसीलिए यदि आप अच्छे से अच्छा content लिखे तो automatically आपका पोस्ट rank हो जायेगा.

Content अच्छा कैसे लिखे इसके लिए आप हमारे On Page SEO का आर्टिकल पढ़कर जान सकते है.

Comment करना शुरू करें 

Comments backlinks पाने का सबसे best और easy तरीका है आप अपने blog के niche के according किसी दुसरे ब्लॉग पर comment करके backlinks प्राप्त कर सकते है.

Comment हमेशा Genuine तरीके से करना चाहिए मतलब comment आपका spam न लगे इसीलिए comment करते वक्त अपने ब्लॉग का लिंक(URL) देना कभी भी न भूले| इससे आपको nofollow backlink मिल जायेगा.

जितने ज्यादा अपने वेबसाइट के niche के according किसी दूसरी अलग अलग वेबसाइट पर comment करेंगे तो आपको एक अच्छे backlinks मिल जायेंगे.

जिससे आपके ब्लॉग या वेबसाइट पर visitors आने लगेंगे और google में भी rank बढ़ने लगेगा.

Web Directories Submission

ब्लॉग को web directories में सबमिट करें ये एक और easy तरीका है but ये तरीका आजकल इतना आसान नही है क्योंकि legal web directory find करना इतना easy भी नही है जिससे बैकलिंक हासिल कर सकते है।

आप उन web directory को avoid करें जो आपको backlink देने के लिए कहती हो.

हम directory submission इसीलिए करते है क्योंकि directory submission websites की domain authority और पेज authority बहुत ज्यादा होती है तो यदि आपको legal sites से backlink मिल जाता है तो आपकी वेबसाइट के लिए बहुत ही beneficial होगा.

लेकिन आप अपना ज्यादा focus directory submission पर न दे परन्तु न होने से तो कुछ होना बेहतर है|

यदि आप अपनी वेबसाइट के backlinks पता करना चाहते है तो मैंने कुछ links निचे दिए है चाहे तो आप उनपे क्लिक करके देख सकते है –

  1. Backlinko
  2. Ahrefs
  3. SEO Review Tools

Guest Post जरुर करें 

एक High authority backlinks पाने के लिए Guest Post सबमिट करें Guest पोस्ट सबमिट करना सबसे अच्छा और बेस्ट तरीका है.

Guest ब्लॉग्गिंग आजकल ब्लॉग्गिंग की दुनिया में popularity तेजी से बढ़ रही है गेस्ट पोस्ट का मतलब है कि कुछ popular ब्लोग्स में अपना पोस्ट सबमिट करना ही गेस्ट पोस्टिंग कहलाता है.

किसी दुसरे के ब्लॉग में यदि आप अपना पोस्ट सबमिट करते है तो approve हो जाता है तो वेबसाइट के लिए ये बहुत ही अच्छा backlinks है इससे वेबसाइट पर visitor बढ़ने लगते है|

लेकिन गेस्ट पोस्ट सबमिट करने से पहले आप अपने पोस्ट का content अच्छे तरीके से लिखे यदि आपका content अच्छा है तो popular वेबसाइट आपके content को अपनी वेबसाइट में जरुर लिंक करेगी इससे आपको एक अच्छे dofollow backlinks मिल जायेंगे|

यह तरीका सबसे बेस्ट और genuine है

Conclusion :-

आशा करता हूँ कि इस आर्टिकल में आपको What is Backlinks in Hindi  के बारे में पता चल गया होगा कि बैकलिंक क्या है और इसे कैसे बनाते है.  और कौन कौन से टाइप होते है यदि फिर भी आपको कोई doubt है तो आप हमे कमेंट कर सकते है।

but यदि आपको ये पोस्ट अच्छा लगे तो please शेयर करना न भूले.

Leave a Comment

error: Content is protected !!