What is On Page SEO in Hindi | 10 Best On Page SEO Techniques

नमस्कार दोस्तों, आज के  इस आर्टिकल में हम जानेंगे कि On Page SEO क्या है  और इससे हम अपने वेबसाइट को Google के First Page में Rank कैसे करवाए ?

अपनी वेबसाइट को हम 2 तरीको से optimize कर सकते है पहला है.  – On Page SEO Optimization, दूसरा है – OFF Page SEO Optimization.

OFF Page SEO Optimization के  बारे में जानना चाहते है तो क्लिक करें – Off Page SEO क्या है ? What is Off Page SEO in Hindi

इस आर्टिकल में हम ON PAGE SEO के बारे में बात करेंगे जो कि वेबसाइट के लिए बहुत ही जरूरी है।  लेकिन उससे पहले आपको SEO क्या है ? के बारे में पता होना चाहिए. तो आप हमारे आर्टिकल SEO क्या है ? आर्टिकल को पढ़कर seo के बारे में जान सकते है .

What is On Page SEO in Hindi?

On Page SEO में individual pages को ऑप्टिमाइज़ करके गूगल पर high ranking पाना और इससे ज्यादा से ज्यादा ट्रैफिक लाना उसे On Page SEO कहा जाता है. यह website के Internal part मतलब site के pages पर काम करता है।

What is On Page SEO in Hindi

On Page SEO Tutorial in Hindi (On Page SEO Kya Hai)

On Page SEO में Title, Description, Meta Tags, Content, URL, Keyword density, Content-Length, Subheading tags, Internal Links को optimize करता है।

यदि वेबसाइट या ब्लॉग में posts को पब्लिश करने की बाद भी ट्रैफिक नही आ रहा है तो उसके लिए सबसे जरूरी है.

आपकी पोस्ट का on page seo करना. क्योंकि यदि आप पोस्ट का on page seo नही करेंगे तो वेबसाइट पर ट्रैफिक आना impossible है.

अगर आपकी पोस्ट का on page seo strong है तो आप easily अपनी वेबसाइट के posts को गूगल के फर्स्ट पेज पर रैंक करवा सकते है.

तो आज हम इसी पर चर्चा करेंगे कि आखिर on page seo होता क्या है और इसे कैसे करते है.

On Page SEO का control आपके हाथ में होता है क्योंकि इसमें वेबसाइट का interface पर ध्यान देना होता है और ये बहुत ही important पार्ट है.

  • Google daily कुछ न कुछ छोटे और बढ़े updates करता रहता है लेकिन यदि आपने अपने कंटेंट को अच्छे से ऑप्टिमाइज़ किया है तो गूगल का कोई भी अपडेट आपके कंटेंट को इफ़ेक्ट नही करेगा.

On Page SEO एक पेज के content और HTML कोड को refer करता है वही Off Page seo internal और external Signals को refer करता है.

इस दोनों technique का जब सही से इस्तेमाल हो जाये तो ये Google में Higher Rank पाने में मदद करता है.

जब भी आप अपनी वेबसाइट के लिए पोस्ट या आर्टिकल को पब्लिश करने से पहले जिस technique का प्रयोग करते है तो on page seo होता है.

  • इस तकनीक में आप कीवर्ड रिसर्च, पोस्ट टाइटल, meta डिस्क्रिप्शन, कीवर्ड डेंसिटी, इंटरनल एंड एक्सटर्नल लिंक, हैडिंग का सही तरीके से इस्तेमाल, और इसके इलावा और भी technique का प्रयोग करते है.

अगर आप on page seo में मास्टर बन गये तो आप वेबसाइट  के हर पेज या पोस्ट को गूगल में फर्स्ट पेज पर easily रैंक करवा सकते है.

# On Page SEO करना क्यों जरूरी है?

On page seo करना इसीलिए जरूरी है क्योंकि इससे आप अपनी वेबसाइट को फर्स्ट पेज पर रैंक करवा सकते है यदि आपका कोई भी पोस्ट सर्च इंजन के first page पर रैंक कर गया तो इससे पुरे ब्लॉग या वेबसाइट को फायदा मिलता है.

ऐसा करने से traffic तो बढ़ता ही है but इसके साथ साथ आपके साईट की डोमेन अथॉरिटी और पेज अथॉरिटी भी increase होती है.

यदि आपके पोस्ट का कंटेंट हाई क्वालिटी का है तो इससे यूजर आपके पोस्ट पर ज्यादा समय देंगे तो पोस्ट सर्च इंजन फ्रेंडली होने के साथ साथ यूजर फ्रेंडली भी हो जाता है.

जब हमारा एक पोस्ट रैंक कर जाता है तो उसमे हम दुसरे पोस्ट का लिंक भी जोड़ देते है जिससे दुसरे पोस्ट पर भी ट्रैफिक आने लगता है और इससे bounce rate भी कम होता है.

# On Page SEO क्यों करते है ? (Why Do On Page SEO)

एक वेबसाइट owner को on page seo करना इसीलिए जरूरी है ताकि वो अपने ब्लॉग या वेबसाइट को सर्च इंजन में top पर ला सके और उससे पैसे earn कर सके.

जैसा कि एक student पहले अच्छे तरीके से स्टडी करके exam देता है और फिर उस एग्जाम का रिजल्ट आता है ऐसा ही on page seo में है पहले आपको अपने कंटेंट के ऊपर खूब मेहनत के साथ काम करना होगा फिर उसका रिजल्ट आएगा. यदि आप सही तरीके से अपने वेबसाइट का seo ही नही करेंगे तो आप कभी भी अपने पेज तो टॉप पर नही ला सकते.

On Page SEO करने के लिए सबसे ज्यादा जरूरी होता है कीवर्ड रिसर्च करना. क्यों इसके बिना आप सही तरीके अपने कंटेंट को पब्लिश नही कर सकते.

कीवर्ड रिसर्च करने के लिए आप इन टूल्स का इस्तेमाल कर सकते है

ये दोनों कीवर्ड टूल बिलकुल फ्री है और इसे आप अपने वेबसाइट के पोस्ट के लिए प्रयोग कर सकते है. मैं खुद भी अपनी वेबसाइट के लिए इस टूल्स का use करता हूँ. जो एक नए ब्लॉगर के लिए बहुत ही अच्छे है.

# On Page SEO कैसे करे?

On Page SEO करने के लिए कुछ techniques का प्रयोग किया जाता है जिन्हें आप अपने कंटेंट में implement कर सकते है. कुछ On Page SEO Techniques है-

On Page SEO Techniques –

  • Post Title

On Page SEO में पोस्ट का टाइटल सबसे important होता है. यदि आप सही keyword इस्तेमाल करके पोस्ट टाइटल में प्रयोग करते है तो आप अपनी पोस्ट को google सर्च इंजन में जल्दी रैंक भी करवा सकते है. keyword seo में एक वो term है जो आपके content को कुछ ही words में describe कर देता है. इसीलिए हमेशा पोस्ट के टाइटल को रखे जो user के लिए attractive हो जिससे user आपकी पोस्ट पर enter कर सके.

On Page SEO - Post Title

Keywords क्या है और ये वेबसाइट के लिए क्यों जरूरी है ?

  • Post URL

Post Title के साथ साथ पोस्ट का URL भी सबसे ज्यादा important है क्योंकि यदि आप सर्च इंजन में अपनी पोस्ट को रैंक करवाना चाहते है तो यूआरएल में भी keyword देना जरूरी होता है. URL को हम permalink भी कहते है.

On Page SEO - Post URL

हमेशा अपने पोस्ट का url शोर्ट में रखे. कभी भी अपने url में “a”, “the”, “on” ,”and”, “with” जैसे stop words को प्रयोग न करे. क्योंकि ये seo के दृष्टिकोण से अच्छा नही है.

  • Meta Description

Meta Description On page SEO का वो technique है जिससे user को आपके पोस्ट के बारे में पूरा पता चल जाता है कि पोस्ट किसके बारे में है. meta description में 160 character से ज्यादा length नही होनी चाहिए.

On Page SEO - Meta Description

Meta Description में भी keyword का इस्तेमाल करना बेहद जरुरी है. meta description ठीक Post Title के निचे होता है. इसीलिए meta डिस्क्रिप्शन में वही content लिखे जो आपके पोस्ट के बारे में हो.

  • Keyword Research

अपनी पोस्ट के लिए keyword research करना बेहद ही जरूरी है क्योंकि कभी भी ऐसी जानकारी पे content न लिखे जिसे कोई सर्च ही न करता हो. यदि आप अपनी पोस्ट पर ज्यादा ट्रैफिक चाहते है और जिसे लोग इन्टरनेट पर ज्यादा सर्च करते है तो इसके लिए keyword research करना जरूरी हो जाता है.

keyword research के according ही अपने ब्लॉग पोस्ट को create करे. क्योंकि ये On Page SEO के लिए बहुत महत्वपूर्ण factor है. यदि आपको keyword research करने पर एक बेहतर keyword मिल जाता है तो आप अपनी पोस्ट को जल्दी ही सर्च इंजन में देख सकोगे. keyword research के लिए ज्यादा जानने के लिए आप हमारे निचे दिए ब्लॉग को रीड कर सकते है – Keyword Research कैसे और क्यों करते है ?

  • Image Optimization

अपनी पोस्ट के अंदर हम images का इसीलिए प्रयोग करते है ताकि user को attract कर सके. हमारी वेबसाइट में जितने भी images होते है google उन्हें उनके नाम और alt text की हेल्प से पहचान करता है. इसीलिए जब भी अपनी पोस्ट के अंदर images प्रयोग करे तो इन दो बातो का जरुर ख्याल रखे –

  1. इमेज के नाम में फोकस keyword का इस्तेमाल करे
  2. दूसरा, alt text में भी keyword का use करे.

ऐसा करने से SEO Friendly image हमारे On Page SEO को बहुत strong बना देती है. एक बात और, जब भी image का इस्तेमाल अपनी पोस्ट के लिए करे तो image का साइज़ कम से कम रखे ताकि page load होने में ज्यादा टाइम न लगे. ये seo के दृष्टिकोण से बहुत ही important factor है.

हो सके तो, अपने पोस्ट के लिए featured image का प्रयोग जरुर करे. thumbnail के रूप में जो image हम use करते है उसे ही featured image कहा जाता है.

  • Internal Link

अपनी ब्लॉग पोस्ट के लिए अपने ही वेबसाइट के दुसरे लिंक प्रयोग करना internal linking कहलाता है. ये seo रैंकिंग के लिए एक important factor है. internal लिंक आप अपने ब्लॉग पोस्ट में 5 से 10 लिंक प्रयोग कर सकते है.

Internal linking करने से आपके domain की authority भी बढती है जिससे domain grow होने लगता है और रैंकिंग में भी बहुत फर्क आता है.

जैसा भी आप देख सकते है निचे दी गयी image विकिपीडिया से ली गयी है जिससे ये show हो रहा है कि एक आर्टिकल के अंदर internal linking कैसे की जाती है.

On Page SEO - Internal Links

जो ब्लॉग पोस्ट आप लिख रहे है उसी से related ही internal link का प्रयोग करे. ताकि visitor ज्यादा से ज्यादा टाइम आपकी साईट पर रहे. इसकी हेल्प से हम user को लैंडिंग page से बाकि दुसरे पेजेज पर engage करवा सकते है.

suppose करे कि आपकी वेबसाइट में किसी एक पोस्ट पर traffic ज्यादा है दूसरी पोस्ट के according. तो आप उस पोस्ट का लिंक दूसरी पोस्ट में डालकर ट्रैफिक बढ़ा सकते है.

  • External Link

अपनी पोस्ट के अंदर किसी दूसरी वेबसाइट के लिंक को जोड़ना ही external link कहलाता है. External  link डालते समय एक बात का जरुर ध्यान रखे कि external लिंक उसी वेबसाइट या विडियो से रिलेटेड होनी चाहिए जिससे आपके content का टॉपिक match  करे. external link add करने से भी हमारे ब्लॉग पोस्ट की सर्च इंजन में ranking increase होती है.

  • Heading Tags

यदि आप अपनी ब्लॉग पोस्ट में सही headings का प्रयोग करते है तो आप पोस्ट के लिए traffic easily बढ़ा सकते है. हमेशा heading में कोशिश करे कि फोकस keyword का प्रयोग हो. Heading tag भी On Page SEO के लिए बहुत महत्वपूर्ण है. headings के लिए कुछ चीजों का ध्यान रखना चाहिए जैसे कि –

  1. एक webpage के लिए एक ही H1 heading tag का प्रयोग करे.
  2. heading में targeted keyword का use करे.
  3. H2 heading में भी keyword का इस्तेमाल करे और एक webpage में 3 या 4 बार प्रयोग कर सकते है.
  4. Post Title को कोशिश करे कि ये H1 heading tag में हो.
  • Website Loading Speed

आज के टाइम में वेबसाइट लोडिंग स्पीड, seo में एक important रैंकिंग factor बन गया है. आपने देखा होगा कि उन्ही वेबसाइट को लोग ज्यादा like करते है जो खुलने में कम टाइम लगती है means जिनकी लोडिंग स्पीड बहुत ही अच्छी है.

यदि आपकी वेबसाइट की लोडिंग स्पीड कम है तो इसके लिए जरूरी है कि आप अपनी वेबसाइट की स्पीड को ठीक करे. लोडिंग स्पीड ठीक करने के लिए आप wordpress के ऐसे बहुत plugins  है जिनका प्रयोग करके वेबसाइट की स्पीड को बढ़ाया जा सकता है.

Note :- website की लोडिंग स्पीड 3 second से कम होनी चाहिए |

ब्लॉग create करने से पहले किन किन बातो का हमे ध्यान रखना है इसके लिए निचे दिए गये आर्टिकल को पढ़ सकते है –

  1. Blogging में ये गलतियाँ कभी भी न करे 
  2. अपने ब्लॉग के लिए फ्री में ट्रैफिक कैसे बढाये

यदि आपके ब्लॉग की लोडिंग स्पीड बढ़िया है तो google के bots भी पोस्ट को जल्दी index करते है. slow लोडिंग स्पीड वाला ब्लॉग कभी भी google में जल्दी रैंक नही करता. इसीलिए आप अपने होम page पर कम से कम content का इस्तेमाल करे.

  • Responsive Theme

अपनी वेबसाइट के लिए हमेशा responsive theme का प्रयोग करे. जैसा कि आपको पता होगा कि google पर 60% से ज्यादा ट्रैफिक मोबाइल device पर आता है तो यदि आपकी वेबसाइट या ब्लॉग मोबाइल पर ही सही तरीके से नही ओपन हो रहा तो आपको इसका बहुत बड़ा नुक्सान है.

इसीलिए जरूरी है कि हमेशा अपनी वेबसाइट के responsive थीम ही purchase करे. जो mobile फ्रेंडली हो. यदि आप अपनी वेबसाइट मोबाइल फ्रेंडली है या नही चेक करना चाहते है तो आप google के mobile friendly tool को use करके पता कर सकते है –

Google Mobile Friendly Testing Tool 

On Page SEO या Off Page SEO – इनमे से कौनसा important है 

देखा जाये तो ये कहना बिलकुल भी सही नही है कि कौन सा बेहतर है. Search Engine के according, on page seo or off page seo दोनों ही important है क्योंकि ये ही मिलकर कार्य करते है. बाकि On Page SEO थोडा सा इसीलिए ज्यादा महत्वपूर्ण बन गया है क्योंकि इसके बहुत से factors google इस्तेमाल करता है. यदि आपने अपने web page को रैंक करना है तो On Page SEO करना बेहद ही जरूरी है.

कुछ Important Tips जो आपको करने चाहिए और नही करने चाहिए

About Keyword Placement 

  1. Title में keyword का प्रयोग करे. 
  2. URL में Keyword का प्रयोग करे.
  3. Image के ALT Tag में use करे.
  4. Headings में keywords 
  5. First Paragraph में keyword अवश्य इस्तेमाल करे.
  6. आपके पोस्ट में keyword density 1.5% होनी चाहिए.

कुछ points जो चीज़े नही करनी 

  1. H1 tag का ज्यादा प्रयोग न करे.
  2. H2 और H3 को ज्यादा repeat न करे. 
  3. अपने आर्टिकल में keywords को stuff न करे.

अब तक आपने सीखा :

जैसा कि इस आर्टिकल से आपको पता लग गया होगा कि On Page SEO क्या होता है और ये कैसे काम करता है और इसके techniques.

दोस्तों, यदि आपको इस पोस्ट से related कोई भी doubt है तो आप हमे comment करके पूछ सकते है. मैं पूरी कोशिश कुरंगा आपके comment का reply करने की.

यदि आपको पोस्ट अच्छा लगे तो please इस पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा शेयर करदे ताकि कोई भी नया blogger जब वेबसाइट बनाना स्टार्ट करे उसे on page seo के बारे में details में पता चल जाये.

Leave a Comment

error: Content is protected !!